HBSE Class 10 Science (विज्ञान) Important Questions with Answer 2024

Haryana Board Class 10 Science Important Questions with Answer 2024. हरियाणा बोर्ड 10वी कक्षा के विज्ञान के अति महत्वपूर्ण प्रश्न 2024 एग्जाम के लिए। HBSE बोर्ड कक्षा 10वी विज्ञान के महत्त्वपूर्ण प्रश्न। कक्षा 10वी केस स्टडी बेस प्रश्न। Class 10 Case Study Based Questions 2024. Physics , Chemistry & Biology Important Questions 2024. कक्षा 10 भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान के महत्त्वपूर्ण प्रश्न।

HBSE Class 10 Science (विज्ञान) Important Questions with Answer 2024


 

Science (भौतिक विज्ञान) 

1. निम्नलिखित में से किसमें आंख में क्रिस्टलीय लेंस दूधिया और धुँधला होता है?
(a) निकट-दृष्टि दोष
(b) मोतियाबिंद
(c) जरा-दूरदृष्टिता
(d) दीर्घ-दृष्टि दोष
उत्तर – (b) मोतियाबिंद

2. किसी विद्युत धारावाही सीधी लंबी परिनालिका के भीतर चुंबकीय क्षेत्र ?
(a) शून्य होता है
(b) इसके सिरे की और जाने पर घटता है
(c) इसके सिरे की और जाने पर बढ़ता है
(d) सभी बिंदुओं पर समान होता है
उत्तर – (d) सभी बिंदुओं पर समान होता है

3. विद्युत ऊर्जा का व्यापारिक मात्रक …………… है।
उत्तर – किलोवाट घंटा (kW h)

4. तार संधि का प्रतीक बनाइये।
उत्तर –

5. पश्चिम की ओर प्रक्षेपित कोई धनावेशित कण (अल्फा-कण) किसी चुबंकीय क्षेत्र द्वारा उत्तर की ओर विक्षेपित हो जाता है। चुबंकीय क्षेत्र की दिशा क्या है ?
(a) दक्षिण की ओर
(b) पूर्व की ओर
(c) अधोमुखी
(d) उपरिमुखी
उत्तर – (d) उपरिमुखी

6. लघुपथन के समय परिपथ में विद्युत धारा का मान :
(a) बहुत कम हो जाता है।
(b) परिवर्तित नहीं होता।
(c) बहुत अधिक बढ़ जाता है।
(d) निरंतर परिवर्तित होता है।
उत्तर – (c) बहुत अधिक बढ़ जाता है।

7. चुंबक की चुंबकीय क्षेत्र रेखाएं कभी भी एक-दूसरे को ………….. नहीं करती हैं।
उत्तर – प्रतिच्छेद

8. उस पदार्थ का नाम बताइए जिसका अपवर्तनांक उच्चतम है।
उत्तर – हीरा

9. चित्र में दर्शाए अनुसार कोई इलेक्ट्रॉन किसी चुबंकीय क्षेत्र में क्षेत्र के लंबवत प्रवेश करता है। इलेक्ट्रॉन पर आरोपित बल की दिशा क्या है ?

(a) दाई ओर
(b) बाई ओर
(c) कागज़ से बाहर की ओर आते हुए
(d) कागज़ में भीतर की ओर जाते हुए
उत्तर – (d) कागज़ में भीतर की ओर जाते हुए

10. क्या होता है जब एक परिपथ के विद्युन्मय तार तथा उदासीन तार दोनों सीधे संपर्क में आते है ?
(a) उबलते हैं
(b) पिघलते हैं
(c) अतिभारण
(d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर – (c) अतिभारण

11. जल का अपवर्तनांक …………… है।
उत्तर : 1.33

12. लेंस का प्रकार क्या है यदि इसकी फोकल लंबाई – 40 सेमी है ?
उत्तर – अवतल

13. चुंबकीय क्षेत्र एक ऐसी राशि है जिसमें :
(a) परिमाण
(b) दिशा
(c) उपर्युक्त दोनों
(d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर – (c) उपर्युक्त दोनों

14. दक्षिण हस्त अंगुष्ठ नियम का उपयोग किसकी दिशा निर्धारित करने के लिए किया जा सकता है ?
(a) चुंबकीय क्षेत्र
(b) बल
(c) उपर्युक्त दोनों
(d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर – (a) चुंबकीय क्षेत्र

15. एक चुंबक के अंदर, चुंबकीय क्षेत्र रेखाएं …………. से …………… तक जाती हैं।
उत्तर – दक्षिण से उत्तर

16. चित्र में दर्शाए अनुसार प्रकाश पुंज किसी बॉक्स के छिद्रों A तथा B से आपतित होकर क्रमशः छिद्रों C तथा D से बाहर निकलते हैं। बॉक्स के भीतर निम्नलिखित में से क्या हो सकता है ?

(a) काँच का आयताकार स्लैब
(b) उत्तल लैंस
(c) अवत्तल लैंस
(d) प्रिज्म
उत्तर – (a) काँच का आयताकार स्लैब

17. निम्नलिखित में से कौन-सा वोल्टता को निरूपित करता है ?
(a) किया गया कार्य ÷ (विद्युत धारा × समय)
(b) किया गया कार्य × आवेश
(c) (किया गया कार्य × समय) ÷ विद्युत धारा
(d) किया गया कार्य × आवेश × समय
उत्तर – (a) किया गया कार्य ÷ (विद्युत धारा × समय)

18. विद्युत परिपथों की लघुपथन तथा अतिभारण के कारण होने वाली हानि से सुरक्षा की सबसे महत्वपूर्ण युक्ति …………. है।
उत्तर – फ्यूज

19. आकाश का रंग नीला क्यों दिखाई देता है ?
उत्तर – नीले रंग के प्रकाश का प्रकीर्णन अधिक होने के कारण आकाश का रंग नीला दिखाई देता है।

20. लैंस सूत्र लिखिए।
उत्तर : 1/f = 1/v – 1/u

21. किसी लेंस की 1 डाइऑप्टर क्षमता को परिभाषित कीजिए।
उत्तर – जब किसी लेंस की फोकस दुरी 1 मीटर हो तो उस लेंस की क्षमता 1 डायोप्टर कहलाती है।

22. अभिकथन (A) : प्रकाश रेटिना से होकर नेत्र में प्रवेश करता है।
कारण (R) : आँख का लेंस-निकाय रेटिना पर प्रतिबिंब बनाता है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (d) A असत्य है परंतु R सत्य है।

23. अभिकथन (A) : वोल्टमीटर को सदैव उन बिंदुओं से पार्श्वक्रम संयोजित करते हैं, जिनके बीच विभवांतर मापना होता है।
कारण (R) : विभवांतर की माप ऐमीटर द्वारा की जाती है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (c) A सत्य है परंतु R असत्य है।

24. अभिकथन (A) : किसी धातु के चालक में विद्युत धारा प्रवाहित करने पर उसके चारों ओर एक चुबंकीय क्षेत्र उत्पन्न हो जाता है।
कारण (R) : विद्युत धारावाही चालक से संबंध चुंबकीय क्षेत्र की दिशा वाम हस्त अंगुष्ठ नियम द्वारा दी जाती है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (c) A सत्य है परंतु R असत्य है।

25. अभिकथन (A) : बल्ब के तन्तु बनाने के लिए उच्च गलनांक के एक प्रबल धातु का उपयोग किया जाता है।
कारण (R) : बल्ब के तन्तु को प्रकाश उत्पन्न करने के लिए जितना संभव हो उतना उत्पन्न ऊष्मा को रोके रखना चाहिए।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।

26. अभिकथन (A) : दीर्घ दृष्टि दोष आँख का निकट बिंदु 25 से.मी. से अधिक दूर होता है।
कारण (R) : अवतल लैंस वाले चश्में का उपयोग करके दीर्घ दृष्टि दोष को ठीक किया जा सकता है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (c) A सत्य है परंतु R असत्य है।

27. किसी चालक का प्रतिरोध किन कारकों पर निर्भर करता है ?
उत्तर – (i) चालक की लंबाई
(ii) चालक के अनुप्रस्थ काट के क्षेत्रफल
(iii) पदार्थ की प्रकृति

28. श्रेणीक्रम में संयोजित करने के स्थान पर वैद्युत युक्तियों को पार्श्वक्रम में संयोजित करने के क्या लाभ हैं?
उत्तर – (i) पार्श्वक्रम में संयोजित सभी उपकरण वोल्टेज के विभक्त नहीं होने के कारण सुचारू रूप से कार्य करते हैं।
(ii) पार्श्वक्रम में संयोजित उपकरणों में से किसी एक के खराब होने की स्थिति में भी अन्य उपकरण कुशलता से कार्य करते रहते हैं।
(iii) पार्श्वक्रम में संयोजित सभी उपकरणों के लिए अलग-अलग स्विच लगाया जा सकता है ताकि आवश्यकतानुसार किसी को भी ऑन या ऑफ किया जा सके।
(iv) विद्युत परिपथ का कुल तुल्य प्रतिरोध पार्श्वक्रम संयोजित सभी उपकरणों के प्रतिरोध के योग से कम होता है, अतः विद्युत उपकरणों को पार्श्वक्रम में संयोजित करने पर बिजली की खपत कम हो जाती है।

29. 4 m फोकस दूरी वाले किसी अवतल लेंस की क्षमता ज्ञात कीजिए।
उत्तर – यहाँ दिया गया है f = – 4 m
लेंस की क्षमता, P=1/f
P = 1/(-4) = – 0.25 D

30. मानव नेत्र का एक नामांकित आरेख बनाएं।
उत्तर –

31. व्याख्या कीजिए कि ग्रह क्यों नहीं टिमटिमाते।
उत्तर – ग्रह तारों की अपेक्षा पृथ्वी के बहुत पास हैं और इसीलिए उन्हें विस्तृत स्रोत की भाँति माना जा सकता है। यदि हम ग्रह को बिंदु साइज़ के अनेक प्रकाश स्रोतों का संग्रह मान लें तो सभी बिंदु साइज़ के प्रकाश-स्रोतों से हमारे नेत्रों में प्रवेश करने वाले प्रकाश की मात्रा में कुल परिवर्तन का औसत मान शून्य होगा, इसी कारण टिमटिमाने का प्रभाव निष्प्रभावित हो जाएगा।

32. किसी निकट-दृष्टि दोष से पीड़ित व्यक्ति का दूर बिंदु नेत्र के सामने 80 cm दूरी पर है। इस दोष को संशोधित करने के लिए आवश्यक लेंस की प्रकृति तथा क्षमता क्या होगी ?
उत्तर – फोकल लंबाई, f = – x = – 80 सेमी, जहाँ x दूर बिंदु की दूरी है।
यहाँ दिया गया है f = – 0.8 m
लेंस की क्षमता, P = 1/f = 1/(-0.8) = – 1.25 D
चूंकि क्षमता नकारात्मक है, इसलिए लेंस की प्रकृति अवतल लेंस है।

33. किसी विद्युत परिपथ का व्यवस्था आरेख खींचिए, जिसमें 2 V के तीन सेलों की बैटरी, एक 5 Ω प्रतिरोधक, एक 8 Ω प्रतिरोधक, एक 12 Ω प्रतिरोधक तथा एक प्लग कुंजी सभी श्रेणीक्रम में संयोजित हों।
उत्तर –

34. यह दर्शाइए कि आप 6 Ω प्रतिरोध के तीन प्रतिरोधकों को किस प्रकार संयोजित करेंगे कि प्राप्त संयोजन का प्रतिरोध (i) 9 Ω, (ii) 4 Ω हो।
उत्तर – (i) 6 Ω के तीन प्रतिरोधकों से 9 Ω का प्रतिरोध प्राप्त करने के लिए, दो प्रतिराधकों को पाश्र्वकर्म तथा तीसरे प्रतिरोध को इनके श्रेणीक्रम में लगाना होगा।

(ii) 6 Ω के तीन प्रतिरोधकों से 4 Ω प्रतिरोधकता प्राप्त करने के लिए दो प्रतिरोधकों को श्रेणीक्रम में तथा तीसरे प्रतिरोधक को पाश्र्वकर्म में लगाना होगा।

35. किसी विद्युत इस्तरी में अधिकतम तापन दर के लिए 840 W की दर से ऊर्जा उपभुक्त होती है तथा 360 W की दर से उस समय उपभुक्त होती है, जब तापन की दर निम्नतम है। यदि विद्युत स्त्रोत की वोल्टता 220 V है तो अधिकतम तापन की स्थिति में विद्युत धारा तथा प्रतिरोध के मान परिकलित कीजिए।
उत्तर – हम यह जानते हैं कि निवेशी शक्ति P = V × I
इस प्रकार विद्युत धारा I = P/V
जब तापन की दर अधिकतम है, तब । = 840W/220V = 3.82 A
तथा विद्युत इस्तरी का प्रतिरोध, R = V/I = 220V/3.82A = 57.60 Ω

36. किरण आरेख बनाइए और अवतल दर्पण द्वारा निर्मित छवि की प्रकृति लिखिए जब वस्तु को (i) C पर और (ii) P और F के बीच रखा जाता है।
उत्तर – (i) प्रतिबिंब की प्रकृतिः वास्तविक एवं उलटा

(ii) प्रतिबिंब की प्रकृतिः आभासी तथा सीधा

37. एक सामान्य मानव नेत्र के लिए निकट-बिंदु और दूर-बिंदु का मान लिखें।
उत्तर : निकट-बिंदु (near point) = 25 cm
दूर-बिंदु (far point) = अनंत (infinity)

38. अतिंम पंक्ति में बैठे किसी विद्यार्थी को श्यामपट्ट पढ़ने में कठिनाई होती है। यह विद्यार्थी किस दृष्टि दोष से पीड़ित है? इसे किस प्रकार संशोधित किया जा सकता है ?
उत्तर – यह विद्यार्थी निकट दृष्टि दोष से पीड़ित हैं। इसे आवश्यक क्षमता के अवतल लेंस के उपयोग से संशोधित किया जा सकता है।

39. व्याख्या करें कि स्वच्छ आकाश का रंग नीला क्यों होता है ?
उत्तर – लाल वर्ण के प्रकाश की तरंगदैर्ध्य नीले प्रकाश की अपेक्षा लगभग 1.8 गुनी है। अतः, जब सूर्य का प्रकाश वायुमंडल से गुज़रता है, वायु के सूक्ष्म कण लाल रंग की अपेक्षा नीले रंग (छोटी तरंगदैर्ध्य) को अधिक प्रबलता से प्रकीर्ण करते हैं। प्रकीर्णित हुआ नीला प्रकाश हमारे नेत्रों में प्रवेश करता है। इसलिए स्वच्छ आकाश का रंग नीला होता है।

40. 4 Ω, 8 Ω, 12 Ω तथा 24 Ω प्रतिरोध की चार कुंडलियों को किस प्रकार संयोजित करें कि संयोजन से (i) अधिकतम, (ii) निम्नतम प्रतिरोध प्राप्त हो सके ?
उत्तर – (i) यदि इन चारों प्रतिरोधों को श्रेणीक्रम में रखा जाए तो अधिकतम प्रतिरोध प्राप्त होगा।
Rs = 4Ω + 8Ω + 12Ω + 24Ω = 48Ω

(ii) न्यूनतम प्रतिरोध पाने के लिए उपर्युक्त चारों प्रतिरोधों को पार्श्वक्रम में रखा जाएगा।
1/RP = 1/4 + 1/8 + 1/12 + 1/24 = 24/48 = 1/2
RP = 2Ω

41. विद्युत लैम्पों के तंतुओं के निर्माण में प्रायः एकमात्र टंगस्टन का ही उपयोग क्यों किया जाता है ?
उत्तर – टंगस्टन के उच्च गलनांक तथा उच्च प्रतिरोधकता के कारण ही विद्युत लैम्पों के निर्माण में एकमात्र इसका उपयोग किया जाता है।

42. विद्युत तापन युक्तियों जैसे ब्रेड टोस्टर तथा विद्युत इस्तरी के चालक शुद्ध धातुओं के स्थान पर मिश्र धातुओं के क्यों बनाए जाते हैं ?
उत्तर – चूँकि मिश्र धातुओं का गलनांक तथा प्रतिरोध शुद्ध धातु की अपेक्षा अधिक होती है, अतः विद्युत तापन युक्तियों के चालक शुद्ध धातुओं के स्थान पर मिश्र धातुओं के बनाये जाते हैं।

43. किसी तार का प्रतिरोध उसकी अनुप्रस्थ काट के क्षेत्रफल में परिवर्तन के साथ किस प्रकार परिवर्तित होता है ?
उत्तर – प्रतिरोध अनुप्रस्थ काट के क्षेत्रफल का व्युत्क्रम होता है अर्थात अनुप्रस्थ काट का क्षेत्रफल बढ़ने से प्रतिरोध घटता है तथा अनुप्रस्थ काट का क्षेत्रफल घटने से प्रतिरोध बढ़ता है।

44. विद्युत संचारण के लिए प्रायः कॉपर तथा ऐलुमिनियम के तारों का उपयोग क्यों किया जाता है ?
उत्तर – कॉपर तथा ऐलुमिनियम की प्रतिरोधकता कम होती है, प्रतिरोधकता कम होने के कारण ये विद्युत के अच्छे चालक होते हैं साथ ही ये अपेक्षाकृत सस्ती तथा सुलभ धातु हैं।

45. एक वोल्ट को परिभाषित कीजिए।
उत्तर – यदि किसी विद्युत धारावाही चालक के दो बिंदुओं के बीच एक कूलॉम आवेश को एक बिंदु से दूसरे बिंदु तक ले जाने में 1 जूल कार्य किया जाता है तो उन दो बिंदुओं के बीच विभवांतर 1 वोल्ट होता है।

46. किसी लेंस की क्षमता को परिभाषित कीजिए। इसका मात्रक लिखिए।
उत्तर – किसी लेंस द्वारा प्रकाश किरणों को अभिसरण या अपसरण करने की मात्रा (degree) को उसकी क्षमता के रूप में व्यक्त किया जाता है। अथवा एक लेंस की शक्ति को इसकी फोकल लंबाई के व्युत्क्रम के रूप में परिभाषित किया जाता है।
लेंस की क्षमता का SI मात्रक ‘डाइऑप्टर’ (Dioptre) है।

47. सामान्य दृष्टि के मानव नेत्र के दूर-बिंदु और निकट-बिंदु को परिभाषित करें।
उत्तर – वह दूरतम बिंदु जिस तक कोई नेत्र वस्तुओं को सुस्पष्ट देख सकता है, नेत्र का दूर-बिंदु (far point) कहलाता है।
वह न्यूनतम दूरी जिस पर रखी कोई वस्तु बिना किसी तनाव के अत्यधिक स्पष्ट देखी जा सकती है, उसे नेत्र का निकट-बिंदु (near point) कहते हैं।

48. किसी अतंरिक्ष यात्री को आकाश नीले की अपेक्षा काला क्यों प्रतीत होता है ?
उत्तर – अंतरिक्ष में वायुमंडल नहीं होता है। वायुमंडल नहीं होने के कारण अंतरिक्ष में प्रकाश का प्रकीर्णन नहीं होता है। इस कारण से किसी अंतरिक्ष यात्री को आकाश नीले की अपेक्षा काला प्रतीत होता है।

49. यदि वस्तु को C और F के बीच रखा जाता है, तो अवतल गोलाकार दर्पण द्वारा बनाए गए प्रतिबिंब का एक किरण आरेख बनाएं।
उत्तर –

50. प्रकाश के अपवर्तन के नियम लिखिए।
उत्तर – (i) आपतित किरण, अपवर्तित किरण तथा दोनों माध्यमों को पृथक् करने वाले पृष्ठ के आपतन बिंदु पर अभिलंब सभी एक ही तल में होते हैं।
(ii) प्रकाश के किसी निश्चित रंग तथा निश्चित माध्यमों के युग्म के लिए आपतन कोण की ज्या (sine) तथा अपवर्तन कोण की ज्या (sine) का अनपुात स्थिर होता है। इस नियम को स्नेल का अपवर्तन का नियम भी कहते हैं।

51. ओम के नियम को परिभाषित करें और समझाएं।
उत्तर – एक विद्युत परिपथ में धातु के तार के दो सिरों के बीच विभवान्तर उसमें प्रवाहित होने वाली विद्युत धारा के समानुपाती होता है परंतु तार का ताप समान रहना चाहिए, इसे ओम का नियम कहते हैं।
V ∝ I
V/I = नियतांक (constant) = R
V = IR

52. निम्नलिखित की परिभाषा दीजिए :
(a) प्रकाश का विक्षेपण
उत्तर – सूर्य के प्रकाश (श्वेत प्रकाश) को प्रिज्म से गुजारने पर यह प्रकाश सात अवयवी रंगों में विभक्त हो जाता है।

(b) वर्णक्रम
उत्तर – श्वेत प्रकाश के वर्ण विक्षेपण के फलस्वरूप प्राप्त सात रंगों का अनुक्रम वर्णक्रम कहलाता है।

53. किसी छड़ चुंबक के चारों और चुंबकीय क्षेत्र रेखाएं खींचिंए। चुम्बकीय क्षेत्र रेखाओं के गुणों की सूची बनाइए।
उत्तर –

चुम्बकीय क्षेत्र रेखाओं के गुण :
(i) चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ उत्तरी ध्रुव से निकलकर दक्षिणी ध्रुव में समाहित हो जाती है।
(ii) चुम्बक के अंदर, चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा इसके दक्षिणी ध्रुव से उत्तरी ध्रुव की ओर होता है।
(iii) चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ बंद वक्र होती हैं।
(iv) जहाँ चुम्बकीय क्षेत्र रेखाए घनी होती हैं वहाँ चुम्बकीय क्षेत्र मजबूत होता है।
(v) दो चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ कभी एक दुसरे को प्रतिच्छेद नहीं करती हैं।

54. परिनालिका क्या होती है? किसी विद्युत धारावाही लंबी परिनालिका के भीतर चुंबकीय क्षेत्र कैसा होगा ?
उत्तर – पास पास लिपटे विद्युतरोधी तॉम्बे के तार की बेलन की आकृति की अनेक फेरों वाली कुंडली को परिनालिका कहते हैं।
परिनालिका के भीतर चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ समांतर रेखाओं की भाँति होती हैं। किसी परिनालिका के भीतर सभी बिन्दुओं एकसमान चुम्बकीय क्षेत्र होता है।

55. दक्षिण हस्त-अंगुष्ठ नियम बताएं।
उत्तर – यदि हम अपने दाहिने हाथ में विद्युत धारावाही चालक को इस प्रकार पकड़े कि हमारा अंगूठा विद्युत धारा की ओर संकेत करता है, तो हमारी अंगुलियाँ चालक के चारों ओर चुम्बकीय क्षेत्र की रेखाओं की दिशा में लिपटी होंगी।

56. प्रकाश का परावर्तन क्या है? परावर्तन के नियम लिखो।
उत्तर – जब प्रकाश किसी पॉलिशदार तल पर गिरता है तो तल से टकराकर प्रकाश उसी माध्यम में लौट आता है, इस घटना को प्रकाश का परावर्तन कहते हैं।
परावर्तन के निम्नलिखित दो नियम हैं :
(i) आपतन कोण तथा परावर्तन कोण सदैव बराबर होते हैं, अर्थात् ∠i = ∠r
(ii) आपतित किरण, परावर्तित किरण तथा अभिलम्ब तीनों एक ही तल में होते हैं।

57. निम्नलिखित स्थितियों में प्रयुक्त दर्पण का प्रकार बताइए व अपने उत्तर का कारण बताइए :
(i) किसी कार का अग्र दीप (हैड लाइट)
उत्तर – अवतल दर्पण।
अग्रदीपों में प्रकाश का शक्तिशाली समांतर किरण करने के लिए किया जाता है।

(ii) किसी वाहन का पार्श्व दर्पण
उत्तर – उतल दर्पण।
क्योंकि उत्तल दर्पण सदैव सीधा, आभासी, पूर्ण आकार का व छोटा प्रतिबिम्ब बनाते हैं तथा इनके बाहर की ओर वक्रित होने के कारण इनका दृष्टि क्षेत्र बहुत अधिक होता है।

58. उत्तल लेंस व अवतल लेंस में अंतर स्पष्ट कीजिये।
उत्तर –

उत्तल लेंस अवतल लेंस
1. उत्तल लेंस बीच से मोटा और किनारों से पतला होता है। 1. अवतल लेंस बीच में से पतला तथा किनारों से मोटा होता है।
2. उत्तल लेंस का प्रयोग दूर-दृष्टि दोष के निवारण के रूप में किया जाता है। 2. अवतल लेंस का प्रयोग निकट-दृष्टि दोष के निवारण के रूप में किया जाता है।
3. उत्तल लेंस में वस्तु का प्रतिबिम्ब वास्तविक तथा उल्टा बनता है। 3. अवतल लेंस में वस्तु का प्रतिबिम्ब आभासी तथा सीधा बनता है।
4. उत्तल लेंस की फोकस दूरी धनात्मक होती है। 4. अवतल लेंस की फोकस दूरी ऋणात्मक होती हैं।
5. उत्तल लेंस प्रकाश की किरणों को एक बिंदु पर केंद्रित करता है। 5. अवतल लेंस प्रकाश की किरणों को बिखेर देता है।

 


 

Science (रसायन विज्ञान)

1. चूना पत्थर के ऊष्मीय वियोजन द्वारा निम्नलिखित में से क्या उत्पन्न होता है ?
(a) ग्रेफ़ाइट
(b) बिना बुझा हुआ चूना
(c) चूने का पानी
(d) बुझा हुआ चूना
उत्तर – (b) बिना बुझा हुआ चूना

2. सोडियम सल्फेट और बेरियम क्लोराइड के जलीय विलयनों को मिलाने पर किस प्रकार की प्रतिक्रिया होती है ?
(a) अपघटन
(b) संयोजन
(c) अवक्षेपण
(d) विस्थापन
उत्तर – (c) अवक्षेपण

3. इमली में …………. अम्ल होता है।
उत्तर – टार्टरिक अम्ल

4. एक धातु का उदाहरण दीजिए जो ऊष्मा की सबसे अच्छी चालक होती है।
उत्तर – चाँदी

5. निम्नलिखित में से क्या उपचयन को रोक सकता है ?
(a) नमी
(b) धूल
(c) प्रति ऑक्सीकारक
(d) ये सभी
उत्तर – (c) प्रति ऑक्सीकारक

6. निम्नलिखित में से किसका क्वथनांक सबसे अधिक है ?
(a) क्लोरोफॉर्म
(b) एसीटिक अम्ल
(c) एथेनॉल
(d) मेथेन
उत्तर – (b) एसीटिक अम्ल

7. …………. एक प्रकार की दवा है जिसका उपयोग अपच के उपचार के लिए किया जाता है।
उत्तर – ऐन्टैसिड

8. उस विलायक का नाम बताइए जिसमें आयनिक यौगिक अघुलनशील होते हैं।
उत्तर – किरोसिन, पेट्रोल, तेल

9. जब तनु हाइड्रोक्लोरिक अम्ल को कॉपर ऑक्साइड के साथ मिलाया जाता है तो उत्पाद का रंग क्या होता है ?
(a) लाल-नारंगी
(b) हरा-पीला
(c) नीला-हरित
(d) काला
उत्तर – (c) नीला-हरित

10. जिप्सम में क्रिस्टलन के जल के अणुओं की संख्या क्या है ?
(a) 1
(b) 2
(c) 3
(d) 0
उत्तर – (b) 2

11. हाइड्रोजन गैस …………. के साथ मिलकर अमोनिया बनाती है।
उत्तर – नाइट्रोजन

12. लेड नाइट्रेट के ऊष्मीय अपघटन पर उत्पन्न गैसों के नाम लिखिए।
उत्तर – नाइट्रोजन डाइऑक्साइड (NO2), ऑक्सीजन (O2)

13. निम्नलिखित में से कौन-सी गैस खाद्य पदार्थों में विकृतगंधिता को रोकती है ?
(a) ऑक्सीजन
(b) हाइड्रोजन
(c) नाइट्रोजन
(d) क्लोरीन
उत्तर – (c) नाइट्रोजन

14. NaHCO3 का प्रचलित नाम क्या है ?
(a) जिप्सम
(b) विरंजक चूर्ण
(c) बेकिंग सोडा
(d) धावन सोडा
उत्तर – (c) बेकिंग सोडा

15. …………. एक अधातु है जो विद्युत की सुचालक है।
उत्तर – ग्रेफ़ाइट

16. सोडियम धातु को केरोसीन में क्यों रखा जाता है ?
उत्तर – सोडियम बहु सक्रीय धातु है जो, वायु में उपस्थित ऑक्सीजन से क्रिया करके आग पकड़ लेती है।

17. कम घनत्व और कम गलनांक वाली दो धातुओं के नाम लिखिए।
उत्तर – लीथियम, सोडियम, पोटैशियम

18. ऐल्कीनों और ऐल्केनों के लिए सामान्य सूत्र लिखिए।
उत्तर – ऐल्कीनों का सामान्य सूत्र = CnH2n
ऐल्केनों का सामान्य सूत्र = CnH2n+2

19. सोडियम कार्बोनेट के पुनः क्रिस्टलीकरण द्वारा निम्नलिखित में से क्या उत्पन्न होता है ?
(a) साधारण नमक
(b) विरंजक चूर्ण
(c) धोने का सोडा
(d) जिप्सम
उत्तर – (c) धोने का सोडा

20.निम्नलिखित में से कौन-सी धातु सबसे अधिक नमनीय है ?
(a) चांदी
(b) सोना
(c) प्लैटिनम
(d) ताँबा
उत्तर – (b) सोना

21. एथेनॉइक अम्ल, …………… के साथ अभिक्रिया करके एथिल एथेनोएट बनाता है।
उत्तर – एथेनॉल

22. उस रासायनिक यौगिक का नाम बताइए जो दांतों का इनैमल (दत्तवल्क) बनाता है।
उत्तर – कैल्सियम हाइड्रोक्सीएपेटाइट

23. अभिकथन (A) : साबुन कठोर जल के साथ स्कम बनाता है।
कारण (R) : कठोर जल में कैल्शियम और मैग्नीशियम के लवण होते हैं।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।

24. अभिकथन (A) : शुष्क कॉपर सल्फेट क्रिस्टल नीले रंग के होते हैं।
कारण (R) : कॉपर सल्फेट क्रिस्टलों में क्रिस्टलन का जल होता है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (d) A असत्य है परंतु R सत्य है।

25. अभिकथन (A) : चिप्स की थैली में नाइट्रोजन गैस भरी जाती है।
कारण (R) : नाइट्रोजन गैस वसा का उपचयन रोकती है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।

26. अभिकथन (A) : विद्युत अपघटनी परिष्करण शुद्ध धातु से अशुद्ध धातु प्राप्त करने की विधि है।
कारण (R) : अशुद्ध धातु को एनोड बनाया जाता है और शुद्ध धातु को कैथोड बनाया जाता है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (d) A असत्य है परंतु R सत्य है।

27. अभिकथन (A) : MnO2 + HCl → MnCl2 + 2H2O + Cl2 एक उपापचय अभिक्रिया का उदाहरण है।
कारण (R) : इस अभिक्रिया में HCL, Cl2 में उपचयित तथा MnO2, MnCl2 में अपचयित हो रहा है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (c) A सत्य है परंतु R असत्य है।

28. संतुलित रासायनिक समीकरण क्या है? रासायनिक समीकरण को संतुलित करना क्यों आवश्यक है ?
उत्तर – जब हर तत्व के परमाणुओं की संख्या तीर की बाईं ओर तथा दाईं ओर समान होती है तो समीकरण को संतुलित समीकरण कहा जाता है।
एक संतुलित समीकरण द्रव्यमान के संरक्षण के नियम का पालन करता है।

29. कार्बन एवं उसके यौगिकों का उपयोग अधिकतर अनप्रुयोगों में ईंधन के रूप में क्यों किया जाता है ?
उत्तर – इष्टतम प्रज्वलन तापमान और उच्च ऊष्मीय मान

30. निम्नलिखित यौगिकों/अणुओं की इलेक्ट्रॉन बिन्दु संरचना खींचें :
(i) मेथेन
(ii) मेथेनैल
(iii) एथीन
(iv) N2
(v) O2
उत्तर –

31. निम्नलिखित यौगिकों का नामकरण कैसे करेंगे ?
(i) CH3CH2Br : ब्रोमोएथेन
(ii) CH3COCH3 : प्रोपेनोन
(iii) CH3CHO : एथेनैल

32. संक्षारण क्या है? इसके दो उदाहरण लिखिए। उन चार विधियों के नाम बताइए जिनका उपयोग संक्षारण को रोकने के लिए किया जा सकता है।
उत्तर – जब धातुओं को वायुमंडल के संपर्क में रखा जाता है तो वायुमंडल में उपस्थित गैसों तथा नमी की उपस्थिति से धातु धीरे-धीरे नष्ट होने लगती है। इस प्रक्रिया को संक्षारण कहते हैं।
उदाहरण: लोहे पर जंग लगना, चांदी का काला पड़ना, तांबे की सतह पर हरे रंग की परत का बनना
संक्षारण से सुरक्षा पेंट करके, तेल लगाकर, ग्रीस लगाकर, यशदलेपन (लोहे की वस्तुओं पर जस्ते की परत चढ़ाकर), क्रोमियम लेपन, ऐनोडीकरण, मिश्रधातु बनाकर की जा सकती है।

33. तांबे के विद्युत अपघटनी परिष्करण का एक नामांकित आरेख बनाएं।
उत्तर –

34. एक मिश्रातु का नाम बताइए। इसके घटक लिखिए। इसका एक उपयोग लिखिए।
उत्तर – मिश्रातु : स्टेनलेस स्टील
इसके घटक : लोहा, निकैल, क्रोमियम
इसका उपयोग : जंग रोधक वस्तु निर्माण

35. अपघटन अभिक्रिया के तीन उदाहरण लिखिए।
उत्तर – (i) 2FeSO4(s) + Heat → Fe2O3(s) + SO2(g) + SO3(g)
(ii) CaCO3 + Heat → CaO(s) + CO2(g)
(iii) 2H2O(l) + Electric current → 2H2(g) + O2(g)
(iv) 2AgCl(s) + Sunlight → 2Ag(s) + Cl2(g)

36. बेकिंग सोडा के तीन उपयोग लिखिए।
उत्तर – (i) बेकिंग पाउडर बनाने में
(ii) ऐन्टैसिड के रूप में, क्षारीय होने के कारण यह पेट में अम्ल की अधिकता को उदासीन करके राहत पहुँचाता है।
(iii) इसका उपयोग सोडा-अम्ल अग्निशामक में भी किया जाता है।

37. विरंजक चूर्ण क्या है ? इसका उत्पादन कैसे किया जाता है ?
उत्तर – CaOCl2
शुष्क बुझा हुआ चूना क्लोरीन की क्रिया से विरंजक चूर्ण का निर्माण होता है।

38. समजातीय श्रेणी कीटोन के पहले पांच सदस्यों के नाम और संरचनाएं लिखें।
उत्तर – (i) प्रोपेनोन : CH3COCH3
(ii) ब्यूटेनोन : CH3COCH2CH3
(iii) पेन्टेनोन : CH3COCH2CH2CH3
(iv) हेक्सेनोन : CH3COCH2CH2CH2CH3
(v) हेप्टेनोन : CH3COCH2CH2CH2CH2CH3

39. साबुन की सफ़ाई प्रक्रिया की क्रियाविधि समझाइए।
उत्तर – अधिकांश मैल तैलीय होते हैं और तेल पानी में अघलुनशील है। साबुन के अणु लंबी श्रृंखला वाले कार्बोक्सिलिक अम्लों के सोडियम एवं पोटैशियम लवण होते हैं।
साबुन का आयनिक भाग जल से, जबकि कार्बन श्रृंखला तेल से पारस्परिक क्रिया करती है। इस प्रकार साबुन के अणु मिसेली संरचना तैयार करते हैं, जहाँ अणु का एक सिरा तेल कण की ओर तथा आयनिक सिरा बाहर की ओर होता है।

इससे पानी में इमल्शन बनता है। इस प्रकार साबुन का मिसेल मैल को पानी बाहर निकलने में मदद करता है और हमारे कपड़े साफ़ हो जाते है।

40. ऊष्माक्षेपी एवं ऊष्माशोषी अभिक्रिया का क्या अर्थ है? उदाहरण दीजिए।
उत्तर – जिस रासायनिक अभिक्रिया में उत्पादों के साथ ऊष्मा भी निकलती है, ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया कहलाती है। उदाहरणः प्राकृतिक गैस का दहन, श्वसन
जिस रासायनिक अभिक्रिया में ऊष्मा (ऊर्जा) का अवशोषण होता है, ऊष्माशोषी अभिक्रिया कहलाती है। उदाहरणः ऊष्मीय वियोजन

41. खनिज, अयस्क तथा गैंग की परिभाषा लिखिए।
उत्तर : खनिज – तत्व या यौगिक जो पृथ्वी की भूपर्पटी में पाये जाते हैं को खनिज कहते हैं।
• अयस्क – खनिज जिनमें किसी विशेष धातु या तत्व की मात्रा ज्यादा होती है तथा उन धातुओं या तत्वों को लाभकारी रूप से निकाला जा सकता है, अयस्क कहते हैं।
• गैंग – पृथ्वी की भूपर्पटी से प्राप्त अयस्क में पाई जाने वाली अशुद्धियाँ यथा मिट्टी, बालू आदि, गैंग कहलाती है।

42. निम्नलिखित यौगिकों का नामकरण कीजिए।
(a) CH2=CHCH2CH3 : ब्यूटीन
(b) CH3CH2CH2CH2CH2CH3 : हेक्सेन
(c) HCHO : मेथेनैल
(d) CH3CH2CH2OH : प्रोपेनॉल
(e) CH3CH2COOH : प्रोपेनॉइक अम्ल

43. उदासीनीकरण अभिक्रिया क्या है? एक उदाहरण दें।
उत्तर – जब अम्ल किसी क्षार से क्रिया करता है तब लवण और जल बनता है।
उदाहरण: NaOH + HCl → NaCl + H2O

44. चिंटी के डंक में पाए जाने वाले अम्ल का नाम व रासायनिक सूत्र लिखो। चिंटी के डंक से होने वाले दर्द से छुटकारा पाने का एक सामान्य तरीका भी बताएं।
उत्तर – चिंटी के डंक में मेथेनोइक अम्ल (फॉर्मिक अम्ल) पाया जाता है। इसका रासायनिक सूत्र HCOOH है।
इससे राहत पाने के लिए कोई भी उपलब्ध क्षारीय लवण उदाहरणार्थ, बेकिंग सोडा (NaHCO3) इस पर प्रयोग में लाया जा सकता है।

45. रासायनिक गुणों के आधार पर धातुओं व अधातुओं के मध्य अंतर स्पष्ट कीजिए।
उत्तर –

धातु अधातु
1. धातुएँ क्षारीय ऑक्साइड बनाती हैं। 1. अधातुएँ अम्लीय या उदासीन ऑक्साइड बनाती हैं।
2. धातुएँ तनु HCI या तनु H2SO4 से अभिक्रिया कर H2 गैस मुक्त करती हैं, क्योंकि हाइड्रोजन को विस्थापित कर देती हैं। 2. अधातुएँ तनु HCI या तनु H2SO4 से अभिक्रिया नहीं करती हैं, क्योंकि हाइड्रोजन को विस्थापित नहीं करती हैं।
3. धातुएँ अपचायक होती हैं। 3. अधातुएँ उपचायक होती हैं।
4. धातुएँ जल (या भाप) से हाइड्रोजन को विस्थापित कर देती हैं। 4. अधातुएँ जल से या भाप से अभिक्रिया नहीं करती हैं। अतः H2 को जल से विस्थापित नहीं करती हैं।
5. धातुएँ इलेक्ट्रॉन त्याग कर धनात्मक आयन बनाती हैं। 5. अधातुएँ इलेक्ट्रॉन ग्रहण कर ऋणात्मक आयन बनाती हैं।
6. सभी धातुएँ H2 से संयोग कर हाइड्राइड नहीं बनाती हैं। 6. सभी अधातुएँ H2 से संयोग कर हाइड्राइड बनाती हैं।

 

46. भर्जन एवं निस्तापन में उदाहरण सहित अंतर स्पष्ट कीजिए।
उत्तर –

भर्जन निस्तापन
1. यह वायु की उपस्थिति में होता है। 1. वायु की अनुपस्थिति में होता है।
2. सल्फाइड अयस्कों के लिए होता है। 2. कार्बोनेट, ऑक्साइड, हाइड्राक्साइड अयस्कों के लिए होता है।
3. अयस्क आंशिक या पूर्ण रूप से ऑक्सीकृत हो जाता है। 3. अयस्क ऑक्सीकृत नहीं होता है।
4. इसमें अयस्क को पूर्ण रूप से गलाया जाता है। 4. इसमें अयस्क को पिघलने नहीं दिया जाता है।
5. उदाहरण: ZnS + O2 → ZnO + SO2 5. उदाहरण: CaCO3 → CaO + CO2

 

47. हाइड्रोजनीकरण क्या है? इसका औद्योगिक अनुप्रयोग लिखें।
उत्तर – असंतृप्त हाइड्रोकार्बन में पैलेडियम अथवा निकल जैसे उत्प्रेरकों की उपस्थिति में हाइड्रोजन के योग से संतृप्त हाइड्रोकार्बन बनता है, जिसे हाइड्रोजनीकरण कहते हैं।
औद्योगिक अनुप्रयोग : असंतृप्त वसा (वनस्पति तेलों) के हाइड्रोजनीकरण से वनस्पति घी (संतृप्त वसा) बनाया जाता हैं।


 

Science (जीव विज्ञान)

1. कोशिका में ग्लूकोज का पायरूवेट में विखंडन कहां होता है ?
(a) माइटोकॉन्ड्रिया
(b) केंद्रक
(c) कोशिका द्रव्य
(d) राइबोसोम
उत्तर – (c) कोशिका द्रव्य

2. पौधों में पत्तियों का मुरझाना किसके कारण होता है ?
(a) एब्सिसिक अम्ल
(b) साइटोकाइनिन
(c) ऑक्सिन
(d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर – (a) एब्सिसिक अम्ल

3. ओजोन के अणु ऑक्सीजन के …………. परमाणुओं से बनते हैं।
उत्तर – तीन

4. जैविक आवर्धन क्या है?
उत्तर – खाद्य श्रृंखला में एक अवस्था से दूसरी अवस्था में प्रवेश करते हुए रसायनों की सान्द्रता में वृ‌द्धि को जैविक आवर्धन कहते है।

5. मस्तिष्क का मुख्य सोचने वाला भाग कौन-सा है ?
(a) अग्रमस्तिष्क
(b) मध्यमस्तिष्क
(c) पश्चमस्तिष्क
(d) अनुमस्तिष्क
उत्तर – (a) अग्रमस्तिष्क

6. मानव मादाओं में कौन-सा गुणसूत्र नहीं पाया जाता है ?
(a) X
(b) Y
(c) ये दोनों
d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर – (b) Y

7. वृद्धि हार्मोन ………… ग्रंथि द्वारा स्रावित होता है।
उत्तर – पीयूष

8. गुरुत्वानुवर्तन क्या है ?
उत्तर – पृथ्वी या गुरुत्वाकर्षण के खिंचाव की अनुक्रिया में प्ररोह और जड़ों की वृ‌द्धि को गुरुत्वानुवर्तन कहा जाता है।

9. निम्नलिखित में से कौन-सा गुणसूत्र एक लड़की को उसके पिता से विरासत में मिलता है ?
(a) X
(b) Y
(c) उपर्युक्त दोनों
(d) इनमे से कोई नहीं
उत्तर – (a) X

10. प्राथमिक उपभोक्ता खाद्य श्रृंखला में …………. पोषी स्तर पर आते हैं।
उत्तर – द्वितीय (Second)

11. उस हार्मोन का नाम बताइए जो प्ररोह के अग्रभाग में कोशिकाओं की लंबाई में वृ‌द्धि में सहायक होता है।
उत्तर – ऑक्सीन

12. वंशागति के नियम किसने दिए ?
(a) मेन्डल
(b) डार्विन
(c) क्रिक
(d) न्यूटन
उत्तर – (a) मेन्डल

13. निम्नलिखित में से क्या दो अलग-अलग लक्षणों की स्वतंत्र वंशानुगति के लिए F2 अनुपात को दर्शाता है ?
(a) 9 : 6 : 3 : 1
(b) 9 : 3 : 3 : 1
(c) 9 : 3 : 6 : 1
(d) 9 : 1 : 3 : 1
उत्तर – (b) 9 : 3 : 3 : 1

14. वसा का पूर्ण पाचन ………… और ………… का उत्पादन करता है।
उत्तर – वसा अम्ल और ग्लिसरॉल

15. पादप हॉर्मोन क्या हैं ?
उत्तर – विविध रसायन जो पादप में वृ‌द्धि, विकास तथा पर्यावरण के प्रति अनुक्रिया के समन्वय में सहायता करते हैं।

16. निम्नलिखित में से कौन-सा अजैव निम्नीकरणीय है ?
(a) कांच
(b) घास
(c) कागज
(d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर – (a) कांच

17. निम्नलिखित में से किसमें पुनरु‌द्भवन से जनन हो सकता है ?
(a) हाइड्रा
(b) प्लेनेरिया
(c) उपरोक्त दोनों में
(d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर – (c) उपरोक्त दोनों में

18. मानव के रक्त में शर्करा स्तर का नियमन कौन-सा हार्मोन करता है ?
उत्तर – इंसुलिन

19. अभिकथन (A) : पपीते के सभी पौधे फल नहीं देते हैं।
कारण (R) : पपीते के पौधों में केवल एकलिंगी फूल होते हैं।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।

20. अभिकथन (A) : उत्सर्जन भोजन के टूटने की प्रक्रिया है।
कारण (R) : वृक्क उत्सर्जन तंत्र का हिस्सा हैं।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (d) A असत्य है परंतु R सत्य है।

21. अभिकथन (A) : ओज़ोन परत सूर्य से आने वाले पराबैंगनी विकिरण से पृथ्वी को सुरक्षा प्रदान करती है।
कारण (R) : ओज़ोन वायुमंडल के निचले स्तर में घातक विष है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।

22. अभिकथन (A) : लैंगिक जनन से अलैंगिक प्रजनन की तुलना में अधिक विविधताएं उतपन्न होती हैं।
कारण (R) : दो भिन्न जीवों की युग्मक कोशिकाएँ लैंगिक जनन में युग्मन द्वारा एक नए जीव का निर्माण करती हैं।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।

23. अभिकथन (A) : जब श्वासनली में वायु नहीं होती है, तो यह संकुचित नही होती है।
कारण (R) : श्वासनली उपास्थि द्वारा समर्थित है।
(a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।
(b) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सत्य है परंतु R असत्य है।
(d) A असत्य है परंतु R सत्य है।
उत्तर – (a) A व R दोनों सत्य हैं तथा R, A की सही व्याख्या है।

24. एड्रीनलीन हार्मोन के स्रोत ग्रंथि का नाम बताइए। जब एड्रीनलीन रुधिर में स्रावित होती है तो हमारे शरीर में क्या अनुक्रिया होती है ?
उत्तर – एड्रीनलीन हार्मोन के स्रोत ग्रंथि का नाम अधिवृक्क ग्रंथि है।
शरीर में अनुक्रिया :
(i) हृदय की धड़कन बढ़ जाती है।
(ii) पाचन तंत्र तथा त्वचा में रुधिर की आपूर्ति कम हो जाती है।
(iii) रुधिर की दिशा हमारी कंकाल पेशियों की ओर कर देता है।
(iv) श्वसन दर बढ़ जाती है।

25. पत्ती के अनुप्रस्थ काट का एक नामांकित आरेख बनाएं।
उत्तर –

26. मानव हृदय का एक नामांकित आरेख बनाएं।
उत्तर –

27. एकल जीवों द्वारा उपयोग की जाने वाली प्रजनन की किन्हीं पाँच विधियों के नाम लिखिए।
उत्तर – (i) विखंडन
(ii) खंडन
(iii) पुनरुद्भवन (पुनर्जनन)
(iv) मुकुलन
(v) कायिक प्रवर्धन
(vi) बीजाणु समासघं

28. गर्भनिरोधन क्या है? गर्भनिरोधन की विभिन्न विधियों को स्पष्ट कीजिए।
उत्तर – गर्भनिरोधन एक विधि को संदर्भित करता है जिसे गर्भावस्था को रोकने के लिए अपनाया जा सकता है।
गर्भनिरोधन की विभिन्न विधियां :
(i) यांत्रिक अवरोध
(ii) हार्मोन असंतुलन
(iii) गर्भाशय युक्तियाँ
(iv) शल्यक्रिया तकनीक

29. ओज़ोन परत की क्षति को सीमित करने के लिए क्या कदम उठाए गए हैं ?
उत्तर – (i) CFC के उत्पादन में कमी
(ii) CFC रहित रिफ्रिजरेटर का निर्माण

30. बीज अंकुरण का एक नामांकित आरेख बनाएं।
उत्तर –

31. पौधों में प्रकाश संश्लेषण की व्याख्या कीजिए।
उत्तर – यह वह प्रक्रम है, जिसमें स्वपोषी बाहर से लिए पदार्थों को ऊर्जा संचित रूप में परिवर्तित कर देता है। ये पदार्थ कार्बन डाइऑक्साइड तथा जल के रूप में लिए जाते हैं, जो सूर्य के प्रकाश तथा क्लोरोफिल की उपस्थिति में कार्बोहाइड्रेट में परिवर्तित कर दिए जाते हैं।
6CO2 + 12H2O + क्लोरोफिल + सूर्य का प्रकाश → C6H12O6 (ग्लूकोज़) + 6O2 + 6H2O
इस प्रक्रम के दौरान निम्नलिखित घटनाएँ होती हैं :
(i) क्लोरोफिल द्वारा प्रकाश ऊर्जा को अवशोषित करना
(ii) प्रकाश ऊर्जा को रासायनिक ऊर्जा में रूपांतरित करना तथा जल अणुओं का हाइड्रोजन तथा ऑक्सीजन में अपघटन
(iii) कार्बन डाइऑक्साइड का कार्बोहाइड्रेट में अपचयन।

32. मनुष्यों में ऑक्सीजन तथा कार्बन डाइऑक्साइड का परिवहन कैसे होता है ?
उत्तर – ऑक्सीजन का परिवहन : ऑक्सीजन अणु हीमोग्लोबिन अणु से आसानी से बंध सकते हैं। रक्त में मौजूद हीमोग्लोबिन फेफड़ों में हवा से ऑक्सीजन लेता है। यह ऑक्सीजन को उन ऊतकों में ले जाता है जिनमें ऑक्सीजन की कमी होती है।
• कार्बन डाइऑक्साइड का परिवहन : इसी तरह, कार्बन डाइऑक्साइड पानी में अधिक घुलनशील है। इसलिए, यह ज्यादातर हमारे रक्त प्लाज्मा में घुलित रूप में शरीर के ऊतकों से फेफड़ों में ले जाया जाता है।

33. यौन संचारित चार रोगों के नाम बताइए.
उत्तर – गोनेरिया, सिफलिस, मस्सा (Wart) तथा HIV-AIDS

34. मानव मस्तिष्क का एक नामांकित आरेख बनाएं।
उत्तर –

35. चित्र द्वारा मानव के मादा जनन तंत्र की व्याख्या कीजिए।
उत्तर –

मादा जनन-कोशिकाओं अथवा अंड-कोशिका का निर्माण अंडाशय में होता है। वे कुछ हार्मोन भी उत्पादित करती हैं।
यौवनारंभ में दो में से एक अंडाशय द्वारा प्रत्येक माह एक अंड परिपक्व होता है। महीन अडंवाहिका अथवा फेलोपियन ट्यूब द्वारा यह अंडकोशिका गर्भाशय तक ले जाए जाते हैं।
दोनों अडंवाहिकाएँ सयुंक्त होकर एक लचीली थैलेनुमा संरचना का निर्माण करती हैं, जिसे गर्भाशय कहते हैं।

36. मनुष्यों में वृषण द्वारा किए जाने वाले कार्य क्या हैं ?
उत्तर – टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन का उत्पादन तथा शुक्राणु उत्पादन

37. एक तंत्रिका कोशिका (न्यूरॉन) की नामांकित संरचना बनाइए।
उत्तर –

38. यौवनारंभ के समय लड़कियों में कौन-से परिवर्तन दिखाई देते हैं ?
उत्तर – लड़कियों के शरीर के अंगो में परिवर्तन निम्नानुसार है :
• आवाज का पतली होना, त्वचा का मुलायम होना तथा त्वचा का अक्सर तैलीय होना,
• कभी कभी मुहांसे निकलना
• स्तनों के आकर में वृ‌द्धि होना तथा स्तनाग्र की त्वचा का रंग भी गहरा होना
• शरीर के कुछ नए भागो जैसे कांख, जांघो के मध्य जननांग क्षेत्रो में बाल आना तथा उनका रंग गहरा होना
• रजोधर्म का प्रारम्भ होना और दुसरो के प्रति अधिक सजग होना इत्यादि

39. वृक्काणु (नेफ्रॉन) की रचना का चित्र सहित वर्णन कीजिए।
उत्तर –

40. अनुमस्तिष्क और मेडुला, प्रत्येक के दो कार्य लिखें।
उत्तर – अनुमस्तिष्क : एक सीधी रेखा में चलना, साइकिल चलाना, एक पेंसिल उठाना
• मेडुला : रक्तदाब, लार आना, वमन

41. गर्भनिरोधक युक्तियाँ अपनाने के क्या कारण हो सकते हैं ?
उत्तर – (i) दो बच्चों के बीच के अंतर को बढ़ाना
(ii) अवांछित गर्भावस्था को रोकने के लिए
(iii) यौन संचारित रोगों के संचरण को रोकने के लिए
(iv) जनसंख्या वृ‌द्धि को नियंत्रित करना

42. एक पुष्प की अनुदैर्ध्य काट नामांकित चित्र बनाएँ।
उत्तर –

43. मानव उत्सर्जन तंत्र का नामांकित चित्र बनाए।
उत्तर –

44. मानव में बच्चे का लिंग निर्धारण कैसे होता है?
उत्तर – मानवों में लिंग का निर्धारण विशेष लिंग गुण सूत्रों के आधार पर होता है। नर में XY गुण सूत्र होते हैं और मादा में XX गुण सूत्र विद्यमान होते हैं। इससे स्पष्ट है कि मादा के पास Y गुण सूत्र होता ही नहीं है। जब नर-मादा के संयोग से संतान उत्पन्न होती है तो मादा किसी भी अवस्था में नर शिशु को उत्पन्न करने में समर्थ हो ही नहीं सकती क्योंकि नर शिशु में XY गुण सूत्र होने चाहिए।
निषेचन क्रिया में यदि पुरुष का X लिंग गुण सूत्र स्त्री के X लिंग गुणसूत्र से मिलता है तो इससे XX जोड़ा बनेगा अतः संतान लड़की के रूप में होगी।
लेकिन जब पुरुष का Y लिंग गुण सूत्र स्त्री के X लिंग गुण सूत्र से मिलकर निषेचन करेगा तो XY बनेगा। इससे लड़के का जन्म होगा।

45. स्वपोषी और विषमपोषी पोषण के बीच तीन अंतर लिखिए।
उत्तर –

स्वपोषी पोषण विषमपोषी पोषण
1. पोषण की वह विधि जिसमें जीव अपना भोजन स्वयं तैयार कर सकता है। 1. पोषण की वह विधि जिसमें जीव स्वयं अपना भोजन तैयार नहीं करता है।
2. इस प्रकार की पोषण प्रक्रिया में, जीव भोजन के लिए अन्य जीवों से स्वतंत्र होता है। 2. इस प्रकार में, जीव पोषण के रूप में भोजन के लिए अन्य जीवों पर निर्भर होता है।
3. इस प्रकार के पोषण में प्रकाश संश्लेषण की प्रक्रिया के माध्यम से सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में कार्बन डाइऑक्साइड और पानी का उपयोग करके भोजन तैयार करना शामिल है। 3. कोई प्रकाश संश्लेषक गतिविधि नहीं होती है।
4. पोषण के इस तरीके को नियोजित करने वाले जीव को उत्पादकों के रूप में जाना जाता है। 4. पोषण के इस तरीके को नियोजित करने वाले जीवों को उपभोक्ताओं के रूप में जाना जाता है।
5. पोषण के इस प्रकार में, सरल अकार्बनिक पदार्थों को जटिल कार्बनिक पदार्थों में परिवर्तित किया जाता है। 5. इसमें जटिल कार्बनिक यौगिकों की खपत शामिल है और फिर सरल घटकों में टूटने के लिए पचाया जाता है।
6. पोषण का यह तरीका पौधों और कुछ नीले-हरे शैवाल और बैक्टीरिया द्वारा किया जाता है। 6. पोषण का विषमपोषी प्रकार सभी जानवरों, कवक और अन्य सभी गैर-प्रकाश संश्लेषक जीवों में होता है।

 

46. धमनियों तथा शिराओं में अंतर लिखिए।
उत्तर –

धमनियां शिराएं
1. रक्त को हृदय से दूर ले जाती है। 1. हृदय की ओर रक्त ले जाती है।
2. ऑक्सीजन युक्त रक्त वहन करती है। 2. ऑक्सीजन रहित रक्त वहन करती है।
3. इसका स्थान शरीर के भीतर गहरा है। 3. इसका स्थान त्वचा के करीब है।
4. ऑक्सीजन युक्त रक्त के कारण उनका रंग लाल होता है। 4. ऑक्सीजन रहित रक्त के कारण उनका रक्त नीला होता है।
5. धमनियों में अवकाशिका संकीर्ण है। 5. शिराओ में अवकाशिका चौड़ा है।
6. रक्त प्रवाह का दबाव अधिक होता है। 6. रक्त प्रवाह का दबाव कम होता है।

 

HBSE Class 10 Science (विज्ञान) Important Questions with Answer 2024


 

Leave a Comment

error: