HBSE Class 11th History Sample Paper 2024 Answer

Haryana Board Class 11th History Sample Paper 2024 with Answer. Haryana Board 11th History Model Paper with Answer. HBSE 11th History Model Paper 2024 Solution. HBSE 11th History ka Model Paper 2024. BSEH Class 11th History Model Paper 2024. History Sample Paper 11th Class HBSE Board. HBSE Class 11 History Sample Paper 2024 Pdf Download. HBSE Class 11th Ka History Model Paper Download Kare. HBSE Class 11 History Model Paper 2024 Pdf Download.

HBSE Class 11th History Sample / Model Paper 2024 Answer

कक्षा – 11वी                       विषय – History
समय : 3 घंटे                         पूर्णांक : 80

सामान्य निर्देश :
(i) प्रश्न पत्र में 5 खण्ड सम्मिलित है – क, ख, ग, घ, और ड़। प्रश्न पत्र में 34 प्रश्न हैं। सभी प्रश्न अनिवार्य हैं।
(ii) खण्ड क – प्रश्न संख्या 1 से 21 प्रत्येक 1 अंक के हैं।
(iii) खण्ड ख – प्रश्न संख्या 22 से 27 लघु उत्तरीय प्रश्न हैं, प्रत्येक प्रश्न 3 अंक का है। प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 60-80 शब्दों से अधिक नहीं होना चाहिए।
(iv) खण्ड ग – प्रश्न संख्या 28 से 30 दीर्घ उत्तरीय प्रश्न हैं, प्रत्येक प्रश्न 8 अंक का है। प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 300-350 शब्दों से अधिक नहीं होना चाहिए।
(v) खण्ड घ – प्रश्न 31 से 33 तीन उक्त प्रश्नों के साथ स्त्रोत आधारित प्रश्न है और प्रत्येक 4 अंक के हैं।
(vi) खण्ड ड़ – प्रश्न संख्या 34 मानचित्र आधारित है, जिसमें 5 अंक हैं। मानचित्र को उत्तर-पुस्तिका के साथ संलग्न करें।

खण्ड – क

1. सुमेरियन भाषा की लिपि कौन-सी थी ?
(क) कीलाक्षर
(ख) खरोष्टी
(ग) आरमाईक
(घ) ब्राह्मी
उत्तर – (क) कीलाक्षर

2. रोम का प्रथम सम्राट कौन था ?
(क) जूलियस सीजर
(ख) टाईबेरियस
(ग) ऑगस्टस
(घ) त्राजान
उत्तर – (ग) ऑगस्टस

3. चंगेज खान का वास्तविक नाम क्या था ?
(क) तेमुजिन
(ख) मान्चू
(ग) तातार खॉन
(घ) कगान
उत्तर – (क) तेमुजिन

4. किस शहर को जीतने के बाद चंगेज खान ने उसे पूरी तरह से नष्ट करने का आदेश दिया ?
(क) समरकंद
(ख) निशापुर
(ग) हैरात
(घ) बुखारा
उत्तर – (ख) निशापुर

5. किस शताब्दी में फ्रांस के एक प्रांत नारमण्डी के राजकुमार द्वारा इंग्लैंड-स्काटलैण्ड द्वीपों को जीता गया ?
(क) 10वीं शताब्दी में
(ख) 11वीं शताब्दी में
(ग) 12वीं शताब्दी में
(घ) 13वीं शताब्दी में
उत्तर – (ख) 11वीं शताब्दी में

6. नवजागरण संस्कृति का उदय सबसे पहले कहाँ पर हुआ ?
(क) इंग्लैंड
(ख) इटली
(ग) फ्रांस
(घ) रूस
उत्तर – (ख) इटली

7. किस विद्वान ने अमेरिका के मूल निवासी को ‘उदात्त उत्तम जंगली’ कहा ?
(क) वडर्सवर्थ
(ख) अरस्तु
(ग) रूसो
(घ) जैफर्सन
उत्तर – (ग) रूसो

8. उगते सूर्य का देश किसे कहा जाता है ?
(क) भारत
(ख) चीन
(ग) पाकिस्तान
(घ) जापान
उत्तर – (घ) जापान

9. शहरी जीवन की शुरूआत कहां से हुई ?
उत्तर – मेसोपोटामिया

10. किस इतिहासकार ने कहा कि त्राजान भारत विजय का स्वप्न देख रहा था।
उत्तर – कैसियस डियो

11. तेमुजिन ने चंगेज खॉ नाम कब धारण किया ?
उत्तर – 1206 में

12. सेंट बेनीडिक्ट मठ कहां पर स्थित है ?
उत्तर – इटली

13. नेटिव शब्द का क्या अर्थ है ?
उत्तर – मूल निवासी

14. मेसोपोटामिया ………… और ………… नदियों के बीच स्थित है।
उत्तर – दजला, फरात

15. …………. रोम का एक चांदी का सिक्का होता था ?
उत्तर – दीनारियस

16. ………….. मंगोल कबीले के सरदारों की एक सभा थी।
उत्तर – कुरिलताइ

17. …………… शासक ने (1929-40) 11 वर्षों तक पार्लियामेंट को बिना बनाए शासन किया।
उत्तर – राजा चार्ल्स-प्रथम

18. ………….. को रोम के राजकवि की उपाधि से सम्मानित किया गया।
उत्तर – पेट्राक

19. निम्नलिखित कथनों पर विचार करेंगे, एक को अभिकथन (A) और दूसरे को कारण (R) के रूप में लेबल किया गया है। कथन को पढिये उपयुक्त विकल्प का चयन कीजिए।
अभिकथन (A) : नेटिव (मूल वाशिंदा) का मतलब होता है – ऐसा व्यक्ति, जो अपने मौजूदा निवास स्थान में ही पैदा हुआ था।
कारण (R) : 20वीं सदी के आरम्भिक वर्षों में यह पद यूरोपिय लोगों द्वारा अपने उपनिवेश के वासिदे के लिए इस्तेमाल होता था।
(क) A और R दोनों सही हैं और R, A की सही व्याख्या है।
(ख) A और R दोनों सही हैं और R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(ग) A सही हैं, R सही नहीं है।
(घ) A सही नहीं है, R सही हैं।
उत्तर – (क) A और R दोनों सही हैं और R, A की सही व्याख्या है।

20. अभिकथन (A) : फुकुजावा यूकिची मेजी काल के प्रमुख बुद्धिजीवियों में एक थे।
कारण (R) : उनका मानना था कि जापान को एशिया का ही हिस्सा बना रहना चाहिए।
(क) A और R दोनों सही हैं और R, A की सही व्याख्या है।
(ख) A और R दोनों सही हैं और R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(ग) A सही हैं, R सही नहीं है।
(घ) A सही नहीं है, R सही हैं।
उत्तर – (ग) A सही हैं, R सही नहीं है।

21. अभिकथन (A) : चीन की साम्यवादी पार्टी की स्थापना 1921 में हुई।
कारण (R) : रूस की क्रान्ति 1917 में हुई।
(क) A और R दोनों सही हैं और R, A की सही व्याख्या है।
(ख) A और R दोनों सही हैं और R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(ग) A सही हैं, R सही नहीं है।
(घ) A सही नहीं है, R सही हैं।
उत्तर – (ख) A और R दोनों सही हैं और R, A की सही व्याख्या नहीं है।

खण्ड – ख

22. क्या यह कहना सही होगा कि खानाबदोश पशुचारक निश्चित रूप से शहरी जीवन के लिए खतरा थे ?
उत्तर – खानाबदोश पशुचारकों को शहरी जीवन के लिए खतरा कहे जाने के निम्न कारण हैं :
(i) उनके आने से शहरी जीवन काफी प्रभावित होता था।
(ii) उनके पशु फसलों को नुकसान पहुँचाते थे।
(iii) वे जल स्त्रोतों को दूषित कर देते थे।

अथवा

आप यह कैसे कह सकते हैं कि प्राकृतिक उर्वरता तथा खाद्य उत्पादन के उच्च स्तर ही आरम्भ में शहरीकरण के कारण थे ?
उत्तर – प्राकृतिक उर्वरता तथा खाद्य उत्पादन के उच्च स्तर ही आरम्भ में शहरीकरण के कारण थे जिसकी पुष्टि निम्न तथ्यों से की जा सकती है :
(i) प्राकृतिक उर्वरता से कृषि उत्पादन को प्रोत्साहन मिला।
(ii) मिट्टी की उर्वरा शक्ति नये व्यवसायों का आधार बनी। आरम्भ में गाँव बने।
(iii) गाँवों से शहरीकरण की प्रक्रिया बनी।

23. रोमन साम्राज्य में तीसरी शताब्दी का संकट क्या था ?
उत्तर – रोमन साम्राज्य के इतिहास में तीसरी शताब्दी एक उथल-पुथल की शताब्दी कही जाती है क्योंकि इस शताब्दी में अशांति और अराजकता का वातावरण बना रहा। ईरान के सैसानी शासकों ने रोम पर आक्रमण किये। कुछ कबिले जैसे फ्रेंक, गोथ आदि, इन कबिलों ने भी रोम साम्राज्य पर आक्रमण किये।

24. चंगेज खॉ की चीन विजय अभियान का वर्णन करें।
उत्तर – (i) चंगेज खॉ ने अपने चीन अभियान में सबसे पहले 1205 ई. से 1209 ई. के बीच सी-सिया वंश के क्षेत्र पर आक्रमण किया।
(ii) उसने 1213 ई. में चीन की दिवार को ध्वस्त किया और 1215 तक इस क्षेत्र की राजधानी पैकिंग को जीत लिया। उसके बाद चीन के तीसरे वंश पर आक्रमण किया। चंगेज खॉ 1216 ई. में अपनी मातृभूमि वापिस आ गया और वह अपनी सफलताओं से पूर्ण संतुष्ट था।

25. सामन्तवाद का अर्थ स्पष्ट कीजिए।
उत्तर – सामन्तवाद का अग्रेजी शब्द Feudalism है। यह शब्द जर्मन शब्द Feud से बना है, जिसका अर्थ है – भूमि का टुकड़ा। इस शब्द के आधार पर यह स्पष्ट है कि यूरोप में राज्य की सम्पूर्ण भूमि का मालिक शासक होता था और वह अपने भूमि के टुकड़े को अपने अधीन किसी व्यक्ति को कुछ शर्तों के साथ दे देता था। यह प्रथा सबसे पहले फ्रांस में आर्विभाव हुई उसके बाद इंग्लैंड में भी प्रचलित हुई ।

26. चिरोकी समुदाय की बेदखली का वर्णन कीजिए।
उत्तर – चिरोकी जार्जिया का एक प्रतिष्ठ कबीला था, जिसकी पुष्टि अमेरीका के मुख्य न्यायाधीश ने भी कर दी थी। लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपति एन्डूजैक्सशन ने चिरोकियों को उनके स्थान से बेदखल करने के लिए फौज भेज दी। इस अभियान में काफी चिरोकी मारे गये और उनका यह सफर आंसुओं की राह के नाम से प्रसिद्ध है।

27. चीनी इतिहास में लॉग मार्च क्या था, वर्णन करें।
उत्तर – लॉग मार्च चीन के इतिहास में साम्यवादियों की एक ऐतिहासिक यात्रा थी। यह यात्रा 6000 मील लम्बी थी जोकि 370 दिन में पूर्ण की। इस अवधि में लगभग 82000 साम्यवादी मारें गये। माओ को व्यक्तिगत तौर पर बहुत नुकसान पहुँचा लेकिन इस यात्रा ने माओ की योग्यता, क्षमता और दृढ़ निश्चय की एक पहचान बनी।

अथवा

जापान के विकास के साथ-साथ वहां की रोजमर्रा की जिन्दगी में किस तरह बदलाव आये? चर्चा कीजिए।
उत्तर – विकास के साथ-साथ औद्योगिकीकरण से जापान की जीवनशैली में बहुत बदलाव आये। इससे पूर्व जापान में संयुक्त परिवार प्रथा का प्रचलन था जहां कई पीढ़ियां घर के एक मुखिया के अधीन रहती थी। लेकिन आधुनिकीकरण के कारण एक नई प्रथा का प्रचलन हुआ, जिसे एकल परिवार प्रथा के नाम से जाना जाने लगा। इस व्यवस्था में परिवार की आवश्यकताएं बढती गई और लोग नई-नई वस्तुओं के शौकीन बने ।

खण्ड – ग

28. मेसोपोटामिया सभ्यता के मारी नगर का वर्णन कीजिए।
उत्तर – मेसोपोटामिया का मारी शहर व्यापार का एक अच्छा केन्द्र था। यह फेरात नदी के किनारे स्थित था। यहां से एक जल मार्ग था जो सुमेर तथा तुर्की, सिरिया और लेबनार के बीच जल मार्ग था। यहां जल पोत आकर रुकते थे और उनसे 10 प्रतिशत कर के रूप में वसूले जाते थे। इससे मारी नगर की समृद्धता काफी बढ़ गई थी। यह क्षेत्र किसान और पशुचारकों का क्षेत्र भी था। भेड़ बकरी चराने वाले गडरिये और किसान आपस में वस्तुओं का लेद देन करते थे। मास, चमड़ा, पनीर इत्यादि के बदले में गडरिये किसानों से अनाज एवं धातु के औजार प्राप्त करते थे। लगभग 2000 ई.पू. के बाद मारी शहर एमोराईट शासकों की राजधानी के रूप में खूब फला-फूला। यहां के एक शासक थे जिनका नाम जिमरीलिम था। उनका यहां एक विशाल राजमहल था जिसमें 260 कमरे थे और यह महल 2.4 हैक्टेर में बना हुआ था।

अथवा

लेखक पद्धति के विकास के विभिन्न चरणों का वर्णन कीजिए।
उत्तर – मेसोपोटामिया में विकसित लेखन का तरीका अधिक चिरस्थाई सिद्ध हुआ। वे लोग चिकनी मिट्टी को गूथ-धापकर छोटे आकार की सुन्दर पट्टिकाये बनाते थे। फिर उस गिली पट्टियों के धरातल पर एक सरकंडे की कलम से अक्षर खोदते थे। बाद में इन पट्टियों को धूप में सुखाकर पका दिया जाता था। इसलिए उन में से हजारों हमारे काल तक बची हुई हैं। बाद में यह कला कीलाकार लिपि के रूप में विकसित हुई। यह लिपि वर्णात्मक न होकर चित्रात्मक थी। लेकिन विचारों को व्यक्त करने में यह लिपि पर्याप्त नहीं थी। इस कठिनाई का समाधन 2600 ई.पू. के आस-पास सुमेर वासियों ने वर्णों को विकसित करके किया। इस प्रकार वहां लिपि का विकास हुआ ।

29. पुनर्जागरण या नवजागरण का क्या अर्थ है? इसके कारणों की व्याख्या कीजिए।
उत्तर – नवजागरण का अर्थ है – फिर से जागना। वास्तव में नवजागरण एक उदार सास्कृतिक आन्दोलन था जिसमें यूरोप में आ रहे परिवर्तनों के लिए मार्ग तैयार किया। इसके उदय होने के कारणों का वर्णन हम निम्नलिखित ढ़ग से कर सकते है :
(i) धर्मयुद्ध – जेरूस्लम को लेकर ईसाईयों और मुस्लमानों के बीच में जो युद्ध हुए उनको धर्मयुद्ध कहा जाता है। इन युद्धों के माध्यम से यूरोप वासी नवीन विचारों से ओतप्रोत हुए। इन्होंने चर्च और पोप की सत्ता को मानने से इंकार किया।
(ii) भौगोलिक खोजे – इस काल में कई महत्वपूर्ण वैज्ञानिक खोजे भी जैसे कम्पास का अविष्कार हुआ जिससे समुद्री यात्रा में दिशा जानने में मदद मिली। इन्हीं वैज्ञानिक खोजों के कारण वास्कोडिगामा भारत पहुँचे और कोलम्बस अमेरिका में पहुँचे ।
(iii) मुद्रण का अविष्कार – मुद्रण के अविष्कार ने नवजागरण की प्रक्रिया को काफी बढ़ाया। अब एक साथ अनेक पुस्तकें छपने लगी और यूरोप के लोग किताबी ज्ञान से परिचित हुए। उन्होंने अब अंधविश्वास व कुरीतियों को छोड़कर तर्क को सर्वपरि माना। इससे पुनः जागरण का उदय व विकास हुआ।

अथवा

धर्मसुधार आन्दोलन का विस्तारपूर्वक वर्णन कीजिए।
उत्तर – जैसा कि हमें पता है यूरोप वासियों ने चर्च की सत्ता को ललकारना शुरू कर दिया था। अब ईसाई धर्म दो भागों में विभाजित हो गया – जो रूढ़िवादी थे वो कैथोलिक कहलाये तथा जो परिवर्तन चाहते थे वो प्रोटेस्टेंट कहलाए। इस धर्मसुधार आन्दोलन के कुछ कारण थे, जिनका वर्णन निम्नलिखित ढ़ग से कर सकते है :
(i) नवजागरण में नवीन भावना का जन्म हुआ। लोग अब खुले दिमाग से चर्च और अन्य संस्थाओं के बारे में विचार व्यक्त करने लगे। उनके मन में पादरियों के प्रति घृणा पैदा हुई।
(ii) शिक्षा और मुद्रण कला ने इस प्रक्रिया को बढ़ाया। कुछ मानवतावादी लेखकों ने परलोक की बजाये इह लोक को सुधारने पर बल दिया। अब लोग रूढ़िवादिता त्याग कर तर्कशील बन गये, जो धर्म सुधार आन्दोलन में सहायक सिद्ध हुए।
(iii) तत्कालीन कारण – इस आन्दोलन का तत्कालीन कारण पोप के अधिकृत पदाधिकारियों द्वारा पापमोचन पत्रों की बिक्री मुख्य कारण था। पोप उचित और अनुचित तरीकों से धन बटौरने का काम किया। मार्टिन लुथर जैसे सुधारकों ने इन पत्रों की बिक्री का विरोध किया और उसने चर्च और पादरी को भ्रष्टाचार का केन्द्र कहा।

30. जापान के आर्थिक और औद्योगिक विकास का वर्णन कीजिए।
उत्तर – मेईजी कॉल में जापानी अर्थव्यवस्था का तीव्रगति से आधुनिकरण हुआ। इस दौरान यहां पर उद्योगों की स्थापना की गई। सन 1870 में उद्योग मंत्रालय की स्थापना की गई। सन् 1872 ई. में रेललाईन बिछाने का काम शुरू हुआ। प्रथम रेलवे लाईन टोकियो से याँकोहामा के बीच में बिछाई गई। पश्चिमी देशों से मशीने मंगवाई गई। विश्वविद्यालय और स्कूलों में आधुनिक शिक्षा दी जाने लगी । जापान में बैंक प्रणाली का विकास हुआ। इस प्रकार से जापान एक आधुनिक राष्ट्र के निर्माण की ओर अग्रसर हुआ।

अथवा

चीन की 1911 की क्रान्ति की घटनाओं का वर्णन कीजिए।
उत्तर – चीन की 1911 की क्रान्ति का चीन के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान है। इस क्रान्ति से पूर्व चीन में माचूवंश का शासन था। चीन के लोगों के हालात काफी दयनीय थी। लोगों ने समझ लिया था कि जब तक माचू सत्ता पर बने रहेगें तब तक उनकी कठिनाईयों का अंत नहीं होगा। अतः अपनी इन कठिनाईयों को दूर करने के लिए चीन के अनेक क्रान्तिकारी संगठनों ने मिलकर एक क्रांतिकारी लीग का गठन किया और डॉ० सन-यॉत-सेन को इस लीग का मुखिया बनाया गया। डॉ० सन-याँत-सेन सन् 1912 में नानकिंग में अपनी सरकार बना ली। इस प्रकार अब चीन में दो समानान्तर सरकार चलने लगी। अब 1912 में एक समझौता हुआ जब दोनों सरकार मिलकर एक हो गई और 13 फरवरी, 1912 को यु-ऑन-सिकाई को गणतंत्रवादी चीन का पहला राष्ट्रपति बनाया गया।

खण्ड – घ

31. गजन खान का भाषण :
गज़न खान (1295-1304) पहला इल-खानी षासक था जिसने धर्म परिवर्तन कर इस्लाम ग्रहण किया। उसने अपने मंगोल-तुर्की यायावर सेनापतियों को निम्न भाषण दिया जिससे संभव उसके इरानी वजीर रसीदुदीन ने लिखा था और जिसे मंत्री के पत्रों में षामिल किया गया थाः “मै फारस के कृशक वर्ग के पक्ष में नहीं हूँ यदि उन सबको लूटने का कोई उद्देश्य है, तो ऐसा करने के लिए मेरे से अधिक षक्तिशाली और कोई नहीं है। चलो हम सब मिलकर उनको लूटते हैं। लेकिन आप निश्चित रूप से भविश्य में अपने भोजन के लिए अनाज और भोज्य सामग्री इक्कठा करना चाहते हैं तो मुझे आपके साथ कठोर होना होगा …..।
31.1 गजन खान किसका वंशज था ?
उत्तर – चंगेज खॉन का

31.2 गजन खान ने कौन-सा धर्म ग्रहण किया ?
उत्तर – इस्लाम

31.3 गजन खान का शासन काल कब से कब तक का रहा ?
उत्तर – 1295 से 1304 तक

32. निकोलो मैकियावेली अपने ग्रंथ दी प्रिंस (1513) के 15वें अध्याय में मनुष्य के स्वभाव के बारे में लिखते है कि
“काल्पनिक बातों को यदि अलग कर दें और केवल उन्हीं विशयों के बारे में सोचे जो वास्तव में हैं, मैं यह कहता हूँ कि जब भी मनुष्यों के बारे में चर्चा होगी (विशेषकर राजकुमारों के बारे में, जो जनता की नजर में रहते हैं) तो इनमें अनेक गुण देखे जाते हैं, जिन कारण वे प्रशन्सा या निदा के योग्य बने मैकियावेली यह मानते थे कि सभी मनुष्य बूरे हैं और अपने दुष्ट स्वभाव को प्रदर्शित करने में सदैव तत्पर रहते हैं …….।
32.1 मैकियावेली की प्रसिद्ध रचना का क्या नाम है ?
उत्तर – दी प्रिंस

32.2 मैकियावेली अपनी रचना में किसके स्वभाव का वर्णन करता है ?
उत्तर – मुनष्य के स्वभाव का

32.3 मैकियावेली ने मुनष्य के बारे में क्या विचार दिये।
उत्तर – मैकियावेली यह मानते थे कि सभी मनुष्य बूरे हैं और अपने दुष्ट स्वभाव को प्रदर्शित करने में सदैव तत्पर रहते हैं।

33. होपी कॅलीफोर्निया के निकट रहने वाले आदिवासी
प्रस्तर की पट्टी पर यह खुदा था कि होपी यह मानते थे कि उनके पास वापिस आने वाले पहले भाई और बहन धरती के पार से कछुओं के रूप में आयेगें। वे इंसान होगें, पर कछुओं के रूप में आयेगें। इसलिए जब समय आया तो होपी लोग धरती के उस पार से आने वाले उन कछुओं का स्वागत करने के लिए एक खास गाँव में इक्ठठे हुए । वे सुबह-सुबह उठ गये और उन्होंने सूर्योदय देखा। उन्होंने मुरूभूमि के पार निगाह दौड़ाई और उन्हें बख्तरबंद स्पेनी कोन्विवस्टाडोर दिखाई पड़े …….।
33.1 होपी कौन थे ?
उत्तर – होपी कॅलीफोर्निया के निकट रहने वाले आदिवासी थे।

33.2 होपी लोगों की क्या मान्यता थी ?
उत्तर – होपी यह मानते थे कि उनके पास वापिस आने वाले पहले भाई और बहन धरती के पार से कछुओं के रूप में आयेगें।

33.3 होपियों ने मरूप भूमि के पार क्या दिखाई दिया ?
उत्तर – उन्हें बख्तरबंद स्पेनी कोन्विवस्टाडोर दिखाई पड़े।

खण्ड – ड़

34. विश्व मानचित्र में निम्न स्थलों को चिन्हित कीजिए।
A. (i) रोम, (ii) भूमध्य सागर, (iii) कुस्तुनतुनिया
B. विश्व मानचित्र में दो स्थल जो (A) और (B) के रूप में चिन्हित किये गये है, पहचान कर इनके नाम लिखिए।
उत्तर –

Leave a Comment

error: